द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान मौजूद नहीं रहेंगे नवीन पटनायक

द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान मौजूद नहीं रहेंगे नवीन पटनायक

नयी दिल्ली:  बीजेपी (BJP) के अध्यक्ष जे पी नड्डा ने बुधवार को ओड़िशा के सीएम नवीन पटनायक (Odisha सीएम Naveen Patnaik) से टेलीफोन पर बात की और उनसे राष्ट्रपति चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू (Droupadi Murmu) द्वारा नामांकन पत्र दाखिल किए जाने के दौरान मौजूद रहने का आग्रह किया.

चूंकि पटनायक इटली के दौरे पर हैं, इसलिए उन्होंने अनुपलब्धता के लिए खेद जताते हुए अपने मंत्रिमंडल के दो सहयोगियों, जगन्नाथ सारका और टुकुनी साहू को मुर्मू के नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर करने और नामांकन के दौरान उपस्थित रहने को बोला है. सारका पटनायक मंत्रिमंडल में अनुसूचित जाति और जनजाति विकास मंत्री हैं जबकि टुकुनी साहू के पास जल संसाधन, वाणिज्य और परिवहन मंत्रालय का जिम्मा है.

पटनायक एक ट्वीट में कहा, ‘‘भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने राष्ट्रपति चुनाव में द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के संदर्भ में मुझसे बात की. मेरे मंत्रिमंडल के सहयोगी जगन्नाथ सारका और टुकुनी साहू आज नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे और कल नामांकन कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे.

मुर्मू बृहस्पतिवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी. इस दौरान पीएम मोदी सहित राजग के विभिन्न वरिष्ठ नेता उनके साथ उपस्थित होंगे. बीजू जनता दल (बीजद) के अध्यक्ष पटनायक ने मुर्मू को ‘‘राज्य की बेटी” बताकर उनकी उम्मीदवारी का समर्थन किया है.

उन्होंने बुधवार को राज्य विधानसभा के सभी सदस्यों से अपील की कि वे राष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनाव में राजग उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करें. ओडिशा की 147 सदस्यीय विधानसभा में सत्ता में विराजमान बीजद के 114 विधायक हैं. इसके अतिरिक्त बीजेपी के 22 और कांग्रेस पार्टी के नौ सदस्य और माकपा का एक सदस्य है.

एक निर्दलीय विधायक भी है. राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 18 जुलाई को होना है. इसके लिए नामांकन 29 जून तक भरा जा सकेगा और चुनाव रिज़ल्ट की घोषणा 21 जुलाई तक हो जाएगी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को खत्म हो रहा है. 


नरेंद्र मोदी ने इजरायल के प्रधानमंत्री बनने पर यैर लैपिड को बधाई दी

नरेंद्र मोदी ने इजरायल के प्रधानमंत्री बनने पर यैर लैपिड को बधाई दी

नयी दिल्ली पीएम मोदी () ने शुक्रवार को इजरायल के प्रधानमंत्री (Israeli PM) बनने पर यैर लैपिड (Yair Lapid) को शुभकामना दी और बोला कि ऐसे समय में जब दोनों राष्ट्र पूर्ण राजनयिक संबंधों के 30 वर्ष पूरे होने का उत्सव मना रहे हैं, वह द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी को आगे बढ़ाने के लिए तत्पर हैं इजराइल (Israel) की संसद बृहस्पतिवार को भंग कर दी गई और चार वर्ष से भी कम समय में पांचवीं बार नवंबर में आम चुनाव कराने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई राष्ट्र की संसद ने इस संबंध में फैसला लिया

इज़राइल के विदेश मंत्री और निवर्तमान गठबंधन गवर्नमेंट के गठन में अहम किरदार निभाने वाले लैपिड शुक्रवार की आधी रात के बाद राष्ट्र के कार्यवाहक पीएम बन गए उन्होंने इजराइल के सबसे कम समय तक सेवा देने वाले पीएम नफ्ताली बेनेट से पदभार संभाला पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘महामहिम यैर लैपिड को इज़राइल का पीएम बनने के लिए हार्दिक शुभकामना और शुभकामनाएं ऐसे समय में जब दोनों राष्ट्र पूर्ण राजनयिक संबंधों के 30 वर्ष पूरे होने का उत्सव मना रहे हैं, मैं द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी को आगे बढ़ाने के लिए तत्पर हूं

महामहिम नफ्ताली बेनेट को भी दिया धन्यवाद

मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘भारत के सच्चे मित्र होने के लिए महामहिम नफ्ताली बेनेट को धन्यवाद हमारे बीच हुई उपयोगी वार्ता अब भी मेरी स्मृतियों में हैं और नयी किरदार में आपकी कामयाबी की कामना करता हूं’ मोदी ने हिब्रू भाषा में भी ट्वीट किया