गुना में 3 पुलिसवालों की गोली मारकर किया मर्डर

गुना में 3 पुलिसवालों की गोली मारकर किया मर्डर

Guna Incident Update: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के गुना में 3 पुलिसवालों की गोली मारकर मर्डर कर दी गई वहीं एक सिपाही गंभीर रूप से घायल हुआ है घटना शनिवार तड़के 3 से 4 बजे के बीच की बताई जा रही है तीनों पुलिसवालों के मृत शरीर जिला हॉस्पिटल लाए गए हैं बताया जा रहा है कि काले हिरण के शिकारियों ने गोली मारकर तीनों पुलिसवालों की मर्डर कर दी है जिन पुलिसवालों की मर्डर हुई है उसमें SI राजकुमार जाटव, हवलदार संतराम मीना और सिपाही नीरज भार्गव शामिल हैं सिपाही लखन गिरी गंभीर हालत में जिला हॉस्पिटल में भर्ती है

घटना को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उच्चस्तरीय बैठक बुलाई इस उच्चस्तरीय बैठक में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, सीएस, डीजीपी, एडीजी, पीएस गृह, पीएस सीएम सहित पुलिस के बड़े अधिकारी शामिल हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने निवास पर आपात बैठक के बाद तीनों पुलिसवालों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की सम्मान निधि देने की घोषणा की साथ ही घटनास्थल पर देरी से पहुंचने के लिए ग्वालियर आईजी अनिल शर्मा को हटाने का निर्णय किया है

दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

वहीं पुलिस के जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए मध्यप्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बोला कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा ऊर्जा मंत्री ने बलिदान देने वाले जवानों के परिवारों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करते हुए बोला कि भविष्य में इस तरह के अपराधों की पुनरावृत्ति रोकने सख़्त कदम उठाए जाएंगे 

पुलिस गुना के आरोन क्षेत्र में शिकारियों को घेरने पहुंची

मिली जानकारी के अनुसार देर रात पुलिस को समाचार मिली थी कि कुछ लोग काला हिरण का शिकार करने आए हैं, जिसके बाद पुलिस गुना के आरोन क्षेत्र में शिकारियों को घेरने पहुंची थी, इसी दौरान यह वारदात हुई एसपी राजीव कुमार मिश्रा ने बताया कि सगा बरखेड़ा की तरफ से लुटेरों के जाने की सूचना मिली थी इनकी घेराबंदी के लिए 3-4 पुलिस टीम लगाई गई थीं शहरोक के जंगल में 4-5 लुटेरे बाइक से जाते हुए दिखे पुलिस ने घेराबंदी की तो उन्होंने फायरिंग प्रारम्भ कर दी पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की इसमें तीन पुलिसवालों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया शिकारियों के पास से पांच हिरण और एक मोर के अवशेष बरामद किए हैं 


लद्दाख हादसे पर प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री ने जताया दुख, कहा...

लद्दाख हादसे पर प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री ने जताया दुख, कहा...
लद्दाख (Ladakh) के तुरतुक सेक्टर (Turtuk sector) में जवानों को ले जा रहा ट्रक शुक्रवार को दुर्घटनाग्रस्त (Truck Accident) हो गया. इस हादसे में सात सैनिकों की मृत्यु हो गई है, जबकि 19 घायल हो गए हैं. इस बीच पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने इस घटना को लेकर शेक व्यक्त किया है और घायल जवानों के जल्द ठीक होने की कामना की है.

पीएम मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर एकाउंट से ट्वीट किया, “लद्दाख में हुए बस हादसे से आहत हूं, जिसमें हमने अपने वीर सेना के जवानों को खो दिया है. मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. मुझे आशा है कि जो घायल हुए हैं वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएं. प्रभावितों को हर संभव सहायता दी जा रही है.

वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने दुख जताया. उन्होंने कहा, “लद्दाख में एक बस त्रासदी के कारण हमारे बहादुर इंडियन आर्मी के जवानों की जान जाने से गहरा दुख हुआ. हम अपने राष्ट्र के लिए उनकी सेवा को कभी नहीं भूलेंगे. शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य फायदा के लिए प्रार्थना.

रक्षा मंत्री ने कहा, “सेनाध्यक्ष जनरल मनोज पांडे से बात की, जिन्होंने मुझे स्थिति से अवगत कराया और घायल सैनिकों की जान बचाने के लिए सेना द्वारा उठाए गए कदमों से अवगत कराया. सेना घायल जवानों की हर संभव सहायता कर रही है.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दुख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, “लद्दाख में इंडियन आर्मी की एक बस के खाई में गिरने से हुई हादसा अत्यंत दुःखद है. इस हादसे में हमने अपने जिन वीर जवानों को खोया है मैं उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ. घायलों को त्वरित इलाज के लिए ले जाया गया है, ईश्वर से उनके शीघ्र स्वास्थ्य फायदा की कामना करता हूँ.

सेना के अनुसार, परतापुर से अग्रिम मोर्चे पर सेना के 26 जवानों को ले जा रहा वाहन फिसलकर श्योक नदी में गिर गया. वाहन 50-60 फूट निचे गिर गया. इस हादसे में सात जवानों की मृत्यु हो गई है और 19 घायल हो गए. जिसमें कई को गंभीर चोटें आई है, जिन्हे वायुसेना की सहायता से पंचकूला के कमांड हॉस्पिटल में ले जाया गया.