सतगुरु इंटरनेशल ग्रुप ने MOU निरस्त करने की दी चेतावनी

सतगुरु इंटरनेशल ग्रुप ने MOU निरस्त करने की दी चेतावनी

: विदेशी निवेश लाने वाले एक मात्र सतगुरु इंटरनेशल ग्रुप दुबई ने अजमेर नगर निगम के अधिकारीयों की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगाते हुए चेतावनी दी है कि यदि इन अधिकारीयों द्वारा उनके निवेश को विवादित बनाने के कोशिश नहीं रोके गए तो अजमेर में उनके द्वारा किए जाने वाले 1055 करोड़ रुपये सहित उनके एसोसिएट निवेशकों के पांच हजार करोड़ रुपये के निवेश एम् ओ यु खारिज कर दिए जायेंगे

यह चेतावनी प्रेस वार्ता में सतगुरु ग्रुप के वाइस प्रसीडेंट राजा डी थारवानी ने दी सतगुरु ग्रुप की ओर से आरोप लगाया गया कि अजमेर नगर निगम के अधिकारी कुछ लोगों के साथ मिलकर उनकी सिविल लाइंस स्थित एक संपत्ति को विवादित करार दे रहे हैं इसके लिए बाकायदा लोगों को उनकी संपत्ति के डॉक्यूमेंट्स अवैधानिक रूप से मौजूद करवाए जाते हैं और बाद में विभिन्न मीडिया माध्यमों से उसे सरकारी संपत्ति करार दिया जाता है, जबकि इस संपत्ति के मालिकाना अधिकार के डॉक्यूमेंट्स जो विगत 100 सालों से अस्तित्व में है उनके पास उपस्थित हैंबावजूद इसके कि इन दस्तावेजों की जानकारी अजमेर संभाग के आयुक्त अजमेर जिला कलेक्टर और अजमेर नगर निगम के अनेक ऑफिसरों को सत्यापित प्रति के रूप में सौंप दी गई

उसके बाद भी एक या दो बार नहीं 4 बार जांच के नाम पर कमेटियों का गठन किया गया और उन्हें दंग और परेशान किया गया आश्चर्यजनक रूप से इस पूरे मुद्दे में चार बार डॉक्यूमेंट्स सौंपे जाने के बाद भी अब अजमेर नगर निगम पुलिस में संबंधित मुद्दे की फाइल चोरी होने की शिकायतें दर्ज करवा रहा है सद्गुरु ग्रुप की ओर से लगातार हो रही इस कार्रवाई के विरोध में आप अपने सभी एम ओ यू खारिज करने पर भी विचार किया जा रहा है जो लगभग 1055 करोड रुपए के हैं

वही सद्गुरु ग्रुप के साथ एसोसिएट अन्य विदेशी निवेशक भी लगभग ₹4000 करोड रुपए के निवेश खारिज करने का मानस बना चुका है सद्गुरु ग्रुप का आरोप सीएम के निवेश लाने के प्रयासों पर अजमेर नगर निगम लगा रहा है बट्टा सतगुरु ग्रुप के वाइस प्रेसिडेंट राजा डी थारवानी ने आरोप लगाया कि एक तरफ सीएम अशोक गहलोत भिन्न-भिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से प्रदेश के विकास के लिए विदेशी निवेशकों को आमंत्रित कर रहे हैं , लेकिन अजमेर नगर निगम में बैठे हुए अधिकारी उनके इस कोशिश को निष्फल करने की कोशिशों में जुटे हुए हैं उन्होंने इस बात का हवाला दिया कि राष्ट्र के कई राज्यों के सीएम सद्गुरु ग्रुप के संपर्क में हैं और उनसे आग्रह करते हैं कि यह ग्रुप उनके राज्यों में निवेश करें , लेकिन क्योंकि इस ग्रुप के सदस्य अधिकांशतः अजमेर के मूल निवासी हैं इसलिए उनका पहला दायित्व अपनी मातृभूमि के लिए कुछ करने का है थारवानी के मुताबिक इस ग्रुप द्वारा अभी तक अजमेर में जो भी प्रोजेक्ट लाए गए हैं उनमें करीब एक हजार क्षेत्रीय युवाओं को रोजगार दिया गया है आने वाले प्रोजेक्ट में भी अजमेर के हजारों युवाओं को रोजगार प्रदान किया जाना है, लेकिन जिस तरह की कार्यशैली अजमेर नगर निगम की है उसके चलते अब उनकी चिंताएं बढ़ गई हैं और वह अपना निवेश अजमेर में नहीं करने का मानस बना रहे हैं

अजमेर नगर निगम ऑफिसरों की सफाई नहीं किया जा रहा परेशान इस पूरे मुद्दे में अजमेर नगर निगम के राजस्व अधिकारी पवन मीणा से संपर्क किया गया | उन्होंने विदेशी निवेशकों को किसी भी तरह से परेशान किए जाने के आरोपों को सिरे से खारिज किया है मीणा ने बोला कि इस मुद्दे में पार्षदों की कम्पलेन के बाद जांच प्रारम्भ की गई है और जांच के दौरान ही यह पता चला कि संबंधित मुद्दे की पत्रावली नगर निगम से चोरी हो गई है जिसकी कम्पलेन पुलिस को दी गई है जो नियमानुसार है पार्षदों द्वारा कम्पलेन किए जाने पर जांच का प्रावधान है और उसी आधार पर यह जांच प्रस्तावित की गई है जिसमें सतगुरु ग्रुप को नगर निगम का योगदान करना चाहिए


नरेंद्र मोदी ने इजरायल के प्रधानमंत्री बनने पर यैर लैपिड को बधाई दी

नरेंद्र मोदी ने इजरायल के प्रधानमंत्री बनने पर यैर लैपिड को बधाई दी

नयी दिल्ली पीएम मोदी () ने शुक्रवार को इजरायल के प्रधानमंत्री (Israeli PM) बनने पर यैर लैपिड (Yair Lapid) को शुभकामना दी और बोला कि ऐसे समय में जब दोनों राष्ट्र पूर्ण राजनयिक संबंधों के 30 वर्ष पूरे होने का उत्सव मना रहे हैं, वह द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी को आगे बढ़ाने के लिए तत्पर हैं इजराइल (Israel) की संसद बृहस्पतिवार को भंग कर दी गई और चार वर्ष से भी कम समय में पांचवीं बार नवंबर में आम चुनाव कराने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई राष्ट्र की संसद ने इस संबंध में फैसला लिया

इज़राइल के विदेश मंत्री और निवर्तमान गठबंधन गवर्नमेंट के गठन में अहम किरदार निभाने वाले लैपिड शुक्रवार की आधी रात के बाद राष्ट्र के कार्यवाहक पीएम बन गए उन्होंने इजराइल के सबसे कम समय तक सेवा देने वाले पीएम नफ्ताली बेनेट से पदभार संभाला पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘महामहिम यैर लैपिड को इज़राइल का पीएम बनने के लिए हार्दिक शुभकामना और शुभकामनाएं ऐसे समय में जब दोनों राष्ट्र पूर्ण राजनयिक संबंधों के 30 वर्ष पूरे होने का उत्सव मना रहे हैं, मैं द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी को आगे बढ़ाने के लिए तत्पर हूं

महामहिम नफ्ताली बेनेट को भी दिया धन्यवाद

मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘भारत के सच्चे मित्र होने के लिए महामहिम नफ्ताली बेनेट को धन्यवाद हमारे बीच हुई उपयोगी वार्ता अब भी मेरी स्मृतियों में हैं और नयी किरदार में आपकी कामयाबी की कामना करता हूं’ मोदी ने हिब्रू भाषा में भी ट्वीट किया