मशहूर लेखक सलमान रुश्दी पर धारदार चाकू से हमला

मशहूर लेखक सलमान रुश्दी पर धारदार चाकू से हमला

पश्चिमी न्यूयॉर्क के चौटाउक्का संस्थान में एक कार्यक्रम के दौरान सलमान रुश्दी अपना व्याख्यान प्रारम्भ ही करने वाले थे कि तभी एक शख्स मंच पर चढ़ा और रुश्दीको घूंसे मारे या चाकू से हमला कर दिया. अचानक हुए इस हमले से लेखक जमीन पर गिर गए.

न्यूयॉर्क. प्रसिद्ध लेखक सलमान रुश्दी पर न्यूयॉर्क में शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान धारदार चाकू से हमला हुआ. इस दौरान कार्यक्रम में अफरातफरी मच गई और सलमान रुश्दी को जख्मी हालत में एयर एंबुलेंस की सहायता से हॉस्पिटल ले जाया गया. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, पश्चिमी न्यूयॉर्क के चौटाउक्का संस्थान में एक कार्यक्रम के दौरान सलमान रुश्दी पर हमला करने वाले आदमी को हिरासत में ले लिया गया है.समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक, पश्चिमी न्यूयॉर्क के चौटाउक्का संस्थान में एक कार्यक्रम के दौरान सलमान रुश्दी अपना व्याख्यान प्रारम्भ ही करने वाले थे कि तभी एक शख्स मंच पर चढ़ा और सलमान रुश्दी पर चाकू से हमला कर दिया. अचानक हुए इस हमले से लेखक जमीन पर गिर गए. इसी बीच कई लोग सलमान रुश्दी की सहायता के लिए आगे आ गए.

खबर लिखे जाने तक कश्मीरी मुसलमान परिवार में जन्में सलमान रुश्दी के स्वास्थ्य को लेकर कोई जानकारी नहीं मिली है. हालांकि पुलिस ने हमलावर को हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है. पुलिस के मुताबिक, सलमान रुश्दी की गर्दन पर हमलावर ने धारदार चाकू से हमला किया. जिसके बाद उन्हें एयर एंबुलेंस से हॉस्पिटल लाया गया.

विवादों में रहे हैं सलमान रुश्दी

सलमान रुश्दी की पुस्तक ‘द सैटेनिक वर्सेज’ ईरान में 1988 से प्रतिबंधित है. क्योंकि कई मुसलमानों का मानना है कि सलमान रुश्दी ने इस पुस्तक के जरिए ईशनिंदा की है. इसे लेकर ईरान के तत्कालीन सर्वोच्च धार्मिक नेता अयातुल्ला रूहोल्लाह खमनेई ने सलमान रुश्दी को सज़ा-ए-मौत दिए जाने का फतवा जारी किया था. सलमान रुश्दी की मर्डर करने वाले को 30 लाख अमेरिकी $ से अधिक का पुरस्कार देने की भी पेशकश की गई.आपको बता दें कि सलमान रुश्दी के विरूद्ध कई इस्लामिक नेताओं ने फतवा जारी किया हुआ है. हालांकि ईरान गवर्नमेंट लंबे समय से अयातुल्ला रूहोल्लाह खमनेई के फरमान से दूरियां बनाए हुए है, लेकिन लोगों में सलमान रुश्दी विरोधी भावना बनी हुई है. जिसके चलते सलमान रुश्दी को कई बार जान से मारने की धमकी मिल चुकी है